Collection of Best Raksha Bandhan Wishes By Kavitalay Members

Home » Member Posts » Shayri » Collection of Best Raksha Bandhan Wishes By Kavitalay Members
Member Posts Shayri
1)
फ़क़त धागे की सूरत अपनी चाहत बांध देती है
बहन यूं हाथ भाई के हिफाज़त बांध देती है|

हमारे देश की कर्मावती इस दौर में अब भी
हुमायूं की कलाई पर मुहब्बत बांध देती है|
-- By Abdul Waqar
2)
कलाई सजी होती मेरी भी,
गर घर आ जाता मैं,
कम्बख्त जिम्मेदारियां तो,
त्योहार ही खत्म कर दिये।।
--By Rajesh Yadav
3)
एक डोर जिसमें छुपे हैं ना जाने कितने अरदास,
एक डोर जिसमें बंधा है बहन का प्रेम और विश्वास,
वो एक डोर जिससे होगी आज भाइयों की कलाई रौशन,
महज़ एक डोर नहीं बल्कि है इसमें बहुत कुछ खास।
-- By Dipika Anand
4)
एक प्यारा सा बंधन 
जैसे रोली और चंदन|

बने रहे प्यार और सम्मान 
भैया तुम हो बहन का अभिमान|
--By Bhawana Mishra
5)
सुरभित वंसुधरा श्रावण की सतरंगी लहर 
जैसे श्रावणी बाँधी हो अम्बर की 
कलाई में धरा ने उत्साहित होकर 
धरा ही नहीं धरा की बेटियाँ भी खुश हैं 
भाई को अपने सतरंगी रक्षा का धागा बाँधकर
मनाये कुछ पृथक सा कोरोना में अथक सा
मन से मन को भेजे प्रीत सा इंद्रधनुष मलहर सा
--By Pragya Deole
6)
रेशमी डोरियों में बांध कर, 
वह नटखट शरारती बहुत सताती है। 

भाई की कलाई पर वह, 
हक अपना जताती है। 

चांद सी छवि निर्मल शीतल सी,
किरण भानु सी वह घर महकाती। 

पुष्प सी सौम्य वह बनकर, 
जग को नई दिशा दिखाती है।
--By Dev Rawat

Leave a Reply

%d bloggers like this: